Platt College Okc Ok 2022

If you will not enable these cookies, then some or all of these functionalities may not function adequately. These cookies permit us to anonymously track and measure info so that we can evaluate and strengthen the functionality of our web site. If you you should not...

Medical Careers Without A Degree Reddit

Source Normalized Influence per Paper (SNIP) Supply Normalized Effects for each Paper (SNIP) steps contextual citation effect by weighting citations dependent on the total variety of citations in a subject field. An entity has an h-index benefit of y if the entity has...

Best Part Time Telecommute Jobs 2022

rn Editage assisted 500 authors get published in prime journals like Elsevier, Wiley and Mother nature, in the previous 1 calendar year. rn*Disclaimer: All third-party logos (which includes logos and icons) of journals / publishers, etc. referred to on this web-site...

College Semesters In Order Reddit

We are not implying that buying this assistance will make sure publication in any journal. Editage takes advantage of cookies and other info to provide, preserve and strengthen our providers and to supply a safer andrn a improved expertise by personalising content...

Technical Schools In Orlando

referred to on this internet site continue to be the assets of their respective proprietors. Use of third-occasion logos does not indicate...

आँखों से देखी दुनिया …

आँखों से देखी दुनिया …

आँखों से देखी दुनिया, पर आँखों को देख न पाए हम। आँखों को देख सकें ऐसी आँखें अब कैसे लाएँ हम।।ध्रु.।। आँखों की खिड़की के पीछे बैठा जो सब कुछ...

read more
जड का चेतन से क्या नाता …

जड का चेतन से क्या नाता …

जड का चेतन से क्या नाता।।ध्रु।। जड जड है, चेतन चेतन है। एक शुद्ध औ’ एक मलिन है। तम में कैसे हो सकती है। चित्प्रकाश भासकता।।१।। मैं ‘मैं...

read more
मुझे तो ब्रह्म देत दिखलाई …

मुझे तो ब्रह्म देत दिखलाई …

नहीं दिखाई देता मुझको जगत कहीं भी भाई। मुझे तो ब्रह्म देत दिखलाई।।ध्रु.।। निराकार निर्गुण की छवि ही सगुण रूप धर आई। उसीने बहु बन सृष्टि...

read more
माणिक माणिक जपनेवाला …

माणिक माणिक जपनेवाला …

माणिक माणिक जपनेवाला माणिक ही बन जाता है। ध्यान ध्येय का धरकर ध्याता ध्येय स्वयं बन जाता है।। माणिक माणिक जपने से मैं इसीलिए कतराता हूँ।...

read more
ब्रह्म बनाकर छोड़ा …

ब्रह्म बनाकर छोड़ा …

निज चरणों से प्रभु ने मुझको जोड़ा औ’ ब्रह्म बनाकर छोड़ा। निज माया के गठबंधन को तोड़ा औ’ भ्रम के घट को फोड़ा।।ध्रु।। मुझ पापी को प्रभु ने गले...

read more
प्रभु से खेली क्यों होली …

प्रभु से खेली क्यों होली …

सखि, साड़ी आज भिगो ली। भीगी अँगिया औ’ चोली। मैं निपट निगोड़ी भोली, प्रभु से खेली क्यों होली।।ध्रु।। वह चोर जार गिरधारी। भर ले आया पिचकारी।...

read more